Blog

कबाड़ पड़ी मशीनों को सुधार कर की करोड़ों की बचत (1)

नगरनिगम,भोपाल में सहायक अभियंता के पद पर है सेवारत

कबाड़ पड़ी मशीनों को सुधार कर की करोड़ों की बचत

कबाड़ पड़ी 4 पोकलेन मशीनों को सुधारने और करोड़ों रुपए की बचत करने के कारण अचानक चर्चा में आ गये हैं.

पावरमैट्रीमोनिअल का मोबाइल ऐप

Registration link : click here

human and natrue

जीव और संहारक

 

पृथ्वी फुसफुसाई लेकिन आपने सुना नहीं…!

पृथ्वी बोला लेकिन आपने सुना नहीं ..!!

पृथ्वी चिल्ला उठी लेकिन आपने उसे अनसुना कर दिया..!!!

और इसलिए मैं पैदा हुआ.. कोरोना..!!!!

 

मैं तुम्हें सजा देने के लिए पैदा नहीं हुआ..!मैं तुम्हें जगाने के लिए पैदा हुआ…!!

 

पृथ्वी ने मदद के लिए पुकारा लेकिन आपने सुना नहीं…!भारी बाढ़.. लेकिन आपने सुना नहीं…!!जलती हुई आग.. लेकिन आपने सुना नहीं…!!!भारी तूफान.. लेकिन आपने सुना नहीं…!!!!

 

तुम अब भी जब पृथ्वी को सुन नहीं रहे..!पानी में प्रदूषक तत्वों के कारण समुद्री जानवर मर रहे..!!ग्लेशियर एक खतरनाक दर पर पिघल रहे…!!!

भयंकर सूखे से भी डर नहीं रहे..!!!

अपनी प्रकृति को नकरात्मक करते रहे..!दिन प्रतिदिन युद्ध करते रहे…!! बेहिसाब लोभ लालच करते रहे…!तुम बस अपनी जिंदगी को लेकर चलते रहे…!!चाहे कितनी भी नफरत क्यों न करते रहे…!!!चाहे कितनी भी हत्याएं रोज करते रहे…!!!!

 

***..लेकिन अब मैं यहां हूं… कोरोना..*** और मैंने दुनिया को अपनी पटरियों पर रोक दिया…!मैंने तुमको अपनी चपेट में ले लिया…!!मैंने तुमको प्रकृति की शरण में दे दिया…!!!मैंने तुमको भौतिकवादी चीजों से अलग दिया है…!!!!

 

अब तुम भी पृथ्वी की तरह हो गए…!!आप केवल अपने अस्तित्व के बारे में चिंतित हो गए…!!

 

अब यह प्रकोप कैसा लग रहा है तुम बताओ और इससे बचने का कोई मार्ग तो सुझाओ..???

मैं तुम्हें बुखार देता हूं…जैसे कि पृथ्वी पर आग जलाते हो…!मैं तुम्हें श्वसन संबंधी समस्याएं देता हूं.. जैसे कि तुम मुझे प्रदूषण भरी हवा देते हो..!!मैं तुम्हें कमजोरी देता हूं जैसे कि तुम वृक्ष काटकर पृथ्वी बंजर बनाते हो…!!!

 

मैंने तेरी सुख-सुविधाओं को छीन लिया…!आपकी सैर सपाटा छीन लिया…!!डर और उसके दर्द को भूलने के लिए आप जिन चीजों का उपयोग करेंगे उनको रोक दिया…!!!और मैंने दुनिया को रोक दिया…!!!!

 

पृथ्वी की वायु गुणवत्ता बेहतर है…! आकाश स्पष्ट नीले हैं….!!तालो नदियों में पानी साफ है…!!!पक्षियों की निर्मल वायु भी साफ़ है…!!!!

 

आपके जीवन में क्या महत्वपूर्ण है…?इस पर चिंतन करने के लिए आपको समय निकालना होगा…?? मैं यहाँ तुम्हें सजा देने के लिए नहीं आया हूँ…!मैं तो सिर्फ यहाँ तुम्हें जगाने के लिए हूँ…!!

 

जब यह सब खत्म हो जायेगा…!और मेरा प्रकोप चला जायेगा…!!

तुम्हे इन पलो को याद रखना होगा…!!!

और प्रकृति के नियमो का पालन करना होगा…!!!!

पृथ्वी को सुनो…!अपनी आत्मा की सुनो…!!पृथ्वी को प्रदूषित करना बंद करो…!!!आपस में लड़ना बंद करो…!!!!

 

भौतिकवादी चीजों की देखभाल करना बंद करें…!अपने और अपनों से प्यार करना शुरू करें…!!पृथ्वी और उसके सभी प्राणियों की देखभाल करना शुरू करें…!!!एक निर्माता में विश्वास करना शुरू करें….!!!!

 

क्योंकि अगली बार मैं और भी मजबूत होकर लौट सकता हूं…!और तुम्हे सबक सीखने इस मानव जाती  का विनाश कर सकता हु…!!

 

 

महेंद्र डिगरसे – “सुखवाड़ा” – “पवार मैट्रिमोनियल”

संपर्क : 8880842536

pawarmatrimonial-eye

विशाल विशाल विशाल नि,:शुल्क नेत्र जांच शिविर एवं  निःशुल्क आयुर्वेदिक उपचार समिति के तत्वाधान में इस रविवार स्व.श्रीमति कविता पवार एवं स्व.लोकेश पवार की स्मृति में  क्षत्रिय पवार समाज संगठन ब्लॉक घोड़ाडोंगरी के मंगल भवन में 23 फरवरी 2020 को प्रातः 11:00 बजे से शिविर का शुभारंभ होगा उक्त शिविर में शिवजी भाई ,भास्कर भाई लांयस नेत्र हास्पिटल एवं रिसर्च सेंटर परासिया के नेत्र चिकित्सक एवं वेद पुनाराम जी पवार,डॉक्टर रोशनी दीपिका पवार डॉक्टर गेंद लाल पंवार डॉक्टर सोनू एवं रितु साहू दंत चिकित्सक अपनी सेवाएं प्रदान करेंगे आप सभी बंधु बंधुओं से निवेदन है कि इस  शिविर की जानकारी जरूरतमंदों को ज्यादा से ज्यादा संख्या में बता वें और इस निशुल्क शिविर का आप सभी निर्धन परिवार इसका लाभ लेवे यह शिविर मानव सेवा के कल्याण के लिए वह आप सभी के लिए निरोगी काया के लिए सेवाभावी लोगों के द्वारा आयोजित किया जाता है आप सभी गणमान्य बंधुओं से निवेदन है कि उक्त शिविर में आप सभी तन मन धन से सहयोग कर इस पुनीत कार्य को आगे बढ़ाने में सहयोग करें मानव सेवा ही सच्ची सेवा है इस भाव को लेकर आप सभी इसमें सहयोग प्रदान करें साथ ही आप सभी सामाजिक बंधु माताये बहनें सभी समय दान हेतु सादर आमंत्रित हैं यह 24 वा शिविर आप सभी की सेवा के लिए है सभी बंधुओं से निवेदन है कि पुनीत कार्य में सहयोग कर पुण्य लाभ अर्जित करें |

क्षत्रिय पवार समाज के सभी विवाह योग्य युवक युवतियों के लिए महत्वपूर्ण जानकारी :Register Here

नर्मदांचल पवार क्षत्रिय समाज संघ

नर्मदांचल पवार क्षत्रिय समाज संघ (बुधनी,होशंगाबाद,इटारसी) का इस वर्ष 2020 का स्नेह मिलन समारोह..समाज पदाधिकारीयो का नहीं आम आदमी का मंच..सभी लोगो ने खुलकर अपनी भावनाएं व्यक्त की

नर्मदांचल पवार क्षत्रिय समाज संघ (बुधनी,होशंगाबाद,इटारसी) का इस वर्ष 2020 का स्नेह मिलन समारोह बुदनी के कम्युनिटी हॉल में आयोजित किया गया, जिसमें भारी संख्या में सामाजिक बन्धु पधारे,
बच्चो के कल्चरल प्रोग्राम हुए, उन्हें सम्मानित किया, महिला वो का हल्दी कुमकुम प्रोग्राम हुआ, कर्मठ कार्यकर्ताओं को भी सम्मानित किया गया, एक मुक बधिर महिला का वैवाहिक हेतु जानकारी सांझा की गई, सामाजिक प्रतिभावों का सम्मान किया गया। इस बार हमने मंच से सारे परिवारो का पूर्ण परिचय लोगो के बीच करवाया।
संघ कार्यकारिणी का गठन किया गया,नगर इकाई बुदनी की घोषणा हुई,।
तीनों नगर इकाईयो बुदनी होशंगाबाद, इटारसी से समस्त स्वजातीय बंधुवो का बहुत ही अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है।
लोगो को आपस में डायरेक्ट कनेक्ट करने की थीम  इस साल रखी थी, जिसे संवाद पर्व के रूप में मनाया गया।

कुछ बिंदुवो पर आम राय बनी है:-

नर्मदांचल पवार क्षत्रिय समाज संघ (बुधनी,होशंगाबाद,इटारसी)

१. बुधनी,इटारसी,होशंगाबाद में कार्यरत तीनों नगर इकाईयो को केंद्रीयकृत किया गया जोकि संयुक्त रूप से “नर्मदांचल पवार क्षत्रिय समाज संघ” के अन्तर्गत कार्य करेंगी। जिसका रजिस्ट्रेशन इस वर्ष आवश्यक रूप से कर लिया जायेगा एवं सर्व सम्मति से इसकी कमेटी गठित की जायेगी। जोकि 07 सदस्यों की होगी, जिसमें 02-02 सदस्य तीनों नगर इकाइयों (बुधनी,इटारसी,होशंगाबाद) से होंगे एवं एक जिलाध्यक्ष/संघ अध्यक्ष, जोकी रोटेशन सिस्टम मे परफॉर्मेंस के आधार पर बारी-बारी से नियुक्त किया जा सकेगा।
जिला इकाई के लिए संरक्षक भी प्रस्तावित रहेंगे, जोकि जिला इकाई को मार्गदर्शन, एवं सलाहकार की भूमिका अदा करेंगे।
तीनों नगर इकाइयों के लिए अलग से संरक्षक नहीं होंगे, जो 07 कोर कमिटी जिला इकाई प्रतिनिधि है, वे 07 प्रतिनिधि ही तीनों नगर इकाइयों   के संरक्षक होंगे।
तीनों नगर इकाईयो के अध्यक्ष का चुनाव नगरीय सदस्यों की सहमति के आधार एवं उक्त सदस्य के परफॉर्मेंस के आधार पर जिला कमिटी की अनुशंसा पर किया जाएगा जिसका कार्यकाल 03 वर्ष का होगा।
नगर इकाई के अध्यक्ष अपना काम करने के लिए एवं अपनी कार्यकारिणी नियुक्त एवं विस्तार करने के लिए फ्री होंगे उनपर कोई बाद्यता (बाउंडेशन) नहीं होंगी, वे अपना कार्य अपने नगरीय क्षेत्र में पूर्ण स्वतंत्रता पूर्वक कर सकेंगे। वे अपने काम को ज़ोन प्रतिनिधि एवं टीम के आधार पर सुगमता पूर्वक कर सकेंगे।
किसी भी सदस्य को एक से अधिक स्थानों पर पदांकित नहीं किया जायेगा, एक व्यक्ति केवल एक ही पद पर आसीन होगा।
नगर इकाइयों के सहयोग हेतु जिला इकाई सदैव तत्पर रहेगी।
२. संपूर्ण नर्मदा अंचल संगठन को विभिन्न 10 झोन (क्षेत्र)में बांटकर कार्य को सरल करना एवं इन विभिन्न 10 झोनो को तीनों नगर इकाइयां संचालित करेगी एवं इनके प्रतिनिधियों के चयन नगर इकाइयां ही करेंगी इन प्रतिनिधियों का कार्यकाल 1 वर्ष का रहेगा जोकि उनके परफारमेंस के आधार पर आगे बढ़ाया भी जा सकेगा।
ज़ोन क्र.01 से 03 होशंगाबाद का होगा।
ज़ोन क्र. 04 से 0 इटारसी का होगा।
ज़ोन क्र. 05 से 10 बुदनी का होगा।

३. प्रति वर्ष वार्षिक सम्मेलन में इन झोन प्रतिनिधियों को उनके कार्य की गुणवत्ता के आधार पर सम्मानित भी किया जाएगा।

४. प्रतिवर्ष वार्षिक सम्मेलनों में सामाजिक प्रतिभावो को सम्मानित किया जाएगा, सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन एवं विवाह योग्य युवक-युवतियों की जानकारी साझा की जाएगी तथा बुजुर्गों का आशीर्वाद लिया जाएगा।

५. प्रतिवर्ष वार्षिक सम्मेलनों में सपरिवार मंच से परिवार का परिचय कराया जाएगा एवं आम सभा में सभी को अपनी बात रखने का अवसर प्रदान किया जाएगा।
आपात स्थिति में किसी भी सामाजिक परिवार को संगठन के द्वारा सहायता दी जाएगी। जैसे किसी बीमारी से ग्रसित व्यक्ति  के ऑपरेशन में वो भी परिवार की परिस्थितियों को देखते हुए।।

६.किसी सामाजिक परिवार में आपातकालीन स्थिती में अगर उस परिवार की परिस्थिति उस लायक नही है कि उसकी डेड बॉडी को आपने गांव ले जाने में अथवा उसका अन्तिमसंस्कार में करने में सक्षम नही है  तो इस कंडीसन में जो राशि संगठन के द्वारा निर्धारित की जाएगी उस प्रकार उन परिवारों की सहायता दी जाएगी।

७.हम लोग हर साल सर्वसहमति से वार्षिक कार्यक्रम करते है ।जिसमे हर चीज की व्यवस्था होती हैं, हम लोग हमारे समाज के कम से कम पांच ऐसे परिवार को आमंत्रित करेंगे जो अपने बच्चों के विवाह करने में असमर्थ है। हमे करना ही क्या है केवल उन जोड़ो के लिए वर माला और कुर्सी की व्यवस्था ही तो करना है  अगर हमारे इस छोटे से कार्य से अगर दस परिवार का भला हो तो ये हमारे संगठन के लिये सौभाग्य की बात होगी।

८. भाइयों किसी संगठन की मजबूती उसकी कोषालय मे निहित पारदर्शिता पर निर्भर करती है अतः संगठन का एक बैंक अकाउंट खोला जाएगा जिसमें सारी राशि को पारदर्शिता पूर्वक प्रतिवर्ष आय-व्यय का विवरण कार्यक्रम के बाद ऑनलाइन माध्यम से व्हाट्सएप एवं फेसबुक के द्वारा सबको सूचित कर दिया जाएगा।

७. आप लोगों के द्वारा दी गई सहयोग राशि ऑनलाइन माध्यम एवं ऑफलाइन माध्यम अर्थात (रसीद बुक) दोनों तरीके से स्वीकार की जाएगी एवं उसका प्रकाशन भी आप सब के दर्शनार्थ किया जाएगा। एवं हार्ड कॉपी रिकॉर्ड भी रखा जाएगा।

८. वर्षभर विविध सामाजिक सकारात्मक कार्य किए जाएंगे जिससे कि हमारे पवार समाज का गौरव संपूर्ण नर्मदा अंचल में फैले।

९. प्रतिवर्ष एक गरिमा पूर्ण वार्षिक स्नेह सम्मेलन आयोजित करना जिसमें सभी पवार समाज बंधु आपस में मेलजोल बढ़ा सकें ऐसा प्रयास करना।

भृर्तहरि विक्रम भोज पुरस्कार

संगठन के  पदाधिकारियों को
नहीं होनी चाहिए, हर जगह मान सम्मान की अपेक्षा ।
————————————–
विशेष सामाजिक  आयोजनों में
समाज की प्रतिभाओं को मिले महत्व——– उन्ही का हो अनुसरण
*******
सामाजिक सोच का   नया दायरा   विकसित  करें हर संगठन।
अब जरूरत शिक्षा,व्यवसाय व  उन्नत कृषि ,  में अग्रणी होने की।
**********

रविवार को छिंदवाड़ा में आयोजित राष्ट्रीय भर्तहरि विक्रम भोज पुरस्कार समारोह ,में प्रतिभाओ को सम्मानित करने के
राष्ट्रीय सामाजिक मंच से कई संदेश समाज को मिले।

मुख्य अतिथि डॉ पी के बिसेन
द्वारा अपने उद्बोधन में
पवारों को शिक्षा, व्यवसाय कृषि व राजनीति में अग्रणी होने की बात कही बशर्ते संगठन इस दिशा में सोचे।

संगठनों के पदाधिकारियों को
सेवा हेतु
बिना मान सम्मान की लालसा,फूल हार, स्वागत, की परंपरा को तोड़ सादगी पूर्ण आयोजन को बढ़ावा  देना चाहिए।

इस आयोजन में भी सिर्फ  बैच लगाकर अतिथियों का स्वागत किया गया।

आयोजको को तो निःस्वार्थ भाव से ही कार्य करना चाहिए न कि
किसी अपेक्षा,के
समाजसेवा हेतु उन्होंने
समय,
सोच,
समर्पण
,संसाधन व
स्वास्थ्य।
के पांच स  को जरूरी बताया।
राष्ट्रीय आयोजन की  गरिमानुरूप
इस आयोजन में भी सिर्फ आमंत्रित अतिथियों को ही मंच दिया गया।
बाकी पूरे जिले से समाजबंधु व अन्य जिलों से पधारे संगठन पदाधिकारी आदर्श श्रोताओं के रूप में नजर आए।
जो इस कर्यक्रम की गरिमा के अनुकूल था।
ऐसे सादगीपूर्ण आयोजन के लिए कुलपति महोदय ने आयोजको को  निरन्तर  ऐसे ही आयोजन करने का संदेश दिया।
आगे
उन्होंने कहा कि समाज अब
मंगल भवनों के बजाय होस्टल बनाये,  युवाओं को upsc psc की तैयारी कराए व अधिकारी बनाये, न कि नेतागिरी सिखाये।

प्रतिभा मंच पर अतिथियों के रूप में सामाजिक प्रतिभाओं को ही होना  चाहिए नेताओं को नहीं ।

उन्होंने स्पष्ट कहा कि
प्रतिभाओ को देख प्रतिभा बनने की प्रेरणा मिलेगी
व नेताओं को देख नेता बनने की
इसलिए बच्चो को प्रतिभाओ के सानिध्य में रखे।

समाज के अंदर प्रतिभाओं की खान है,जरूरत अब उन्हें

ऐसे प्रासंगिक मंच की है जो प्रतिभा रूपी हीरे मोतियों को खोदकर निकाल सके।

जिला व ब्लाक स्तरीय संगठनों की सीमा से परे यह कार्य राष्ट्रीय भर्तहरि विक्रम भोज पुरस्कार समिति द्वारा किये जाने व समय समय पर कार्यक्रम आयोजन में समिति को मिल रहे
मेजबान रूपी जिला व ब्लॉक संगठनों के द्वारा किये जा रहे इस कार्य की उन्होंने तारीफ की।

द्वितीय प्रतिभा पर्व में प्रतिभाओं की खोज, पुरस्कार हेतु चयन व सम्पूर्ण संचालन व पुरस्कार ,मेडल प्रशस्ति पत्र सम्मान राशि  की व्यवस्था राष्ट्रीय समिति द्वारा व
आयोजन व्यवस्था जिला संगठन छिंदवाड़ा द्वारा की गई,इस कार्य हेतु 30 से ज्यादा लोगों  द्वारा स्वैच्छिक
आर्थिक सहयोग प्रदान किया गया।। जिला संगठन द्वारा कार्यकारी सहयोग व प्रचार प्रसार सम्बन्धी कार्यों के साथ ही समाज भवन
राष्ट्रीय समिति को समाज सेवा के उद्देश्य से निःशुल्क उपलब्ध कराया गया

👉 संगठन पदाधिकारियों को अब जरूरत स्वयं के मान सम्मान की परवाह किये बगैर सकल समाज के मान सम्मान को बढ़ाने वाली प्रतिभाओं  को उचित मार्गदर्शन देकर पोषित करने की है,न कि स्वयं फूल हार की अपेक्षा कर मंचो पर आसीन होने की आशा रखने की।

जागो 52 लाख पवार

जय राजा भोज

द्वितीय राष्ट्रीय भृर्तहरि विक्रम भोज पुरस्कार

पांढुर्णा के बाद छिंदवाड़ा के सहयोग और समर्थन से आयोजित हुआ द्वितीय प्रतिभा सम्मान समारोह

हमें प्रशंसा या आलोचना से परे होकर निरंतर कार्य करना होगा अन्यथा हमारा रिमोट हमेशा दूसरों के हाथ में होगा और हम कार्य करने की जगह केवल प्रशंसा और आलोचना के भंवर में ही भटकते रहेंगे।

तृतीय आयोजन 2021 में फरवरी के द्वितीय रविवार को बैतूल में
छिंदवाड़ा। 7 जुलाई वर्ष 2019 को पांढुर्णा से प्रारंभ हुआ पुरस्कार समिति का सफर 2 फरवरी 2020 को छिंदवाड़ा तक जा पहुंचा। पांढुर्णा और छिंदवाड़ा के सभी भाई बहनों के प्रति कृतज्ञता और आगंतुकों के प्रति श्रद्धाभाव जिनके सहयोग और समर्थन से अब तक का सफर सफलतापूर्वक संपन्न हुआ।

हमारा उद्देश्य पवित्र है, हमारा कार्य पवित्र है ,भले ही हम कार्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर की ऊंचाई दे पाने में अभी पूर्णतः सफल नहीं हो पाए हैं, फिर भी हम कुछ बेहतर करने और समाज को बेहतर देने की ओर अग्रसर है,
यह हमारे लिए खुशी की बात है। 2 वर्ष के बच्चे में हर स्तर की परिपक्वता देखना थोड़ा जल्दी बाजी ही होगा। पुरस्कार समिति यह स्वीकार करती है कि अभी और  कुटने ,अभी और पीटने, अभी और  तपने अभी और निखरने की जरूरत है।

छिंदवाड़ा जिले के दो आयोजन पुरस्कार समिति को परिपक्वता प्रदान करने के लिए प्रदत्त तन मन धन रुपी सहयोग ही कहलायेगा जो पुरस्कार समिति के भविष्य को तय करने के लिए पर्याप्त है।
पुरस्कार समिति के उद्देश्य और कार्य के प्रति छिंदवाड़ा जिले के भाई बहनों द्वारा जो विश्वास जताया गया वह उनके सामाजिक सरोकार और समाज प्रेम का जीता जागता उदाहरण है। बैतूल जिले के भाई बहनों द्वारा तीसरे कार्यक्रम के आयोजन का उत्तरदायित्व अपने ऊपर लेकर पुरस्कार समिति के प्रति जो विश्वास जताया गया है उस पर पुरस्कार समिति खरा उतरने का पूरा प्रयास करेगी।
आयोजन में सहयोग देने वाले सभी भाई बहनों और आयोजन में पधारे सभी भाई बहनों के प्रति पुरस्कार समिति कृतज्ञता व्यक्त करती है। आशा है आप सभी आगंतुक अपने-अपने घर सकुशल पहुंच गए होंगे।

पुरस्कार समिति के सभी सम्मानीय सदस्यों को प्रशंसा या आलोचना से परे होकर निरंतर कार्य करना होगा अन्यथा हमारा रिमोट हमेशा दूसरों के हाथ में होगा और हम कार्य करने की जगह केवल प्रशंसा और आलोचना के भंवर में ही भटकते रहेंगे। हमें तीसरे आयोजन को और अधिक समृद्ध और सफल बनाने के लिए अभी से ही जुट जाना होगा।
बैतूल के भाई बहनों द्वारा पुरस्कार समिति के आयोजन को अपना कार्यक्रम मानकर पुरस्कार समिति को जो मान दिया गया है वह  पांढुरना और छिंदवाड़ा के भाई बहनों की तरह ही पुरस्कार समिति को गौरवान्वित करने वाला है।
पवार समाज संगठन पांढुर्णा, जिला पवार समाज संगठन छिंदवाड़ा, नगर इकाई छिंदवाड़ा, महिला संगठन छिंदवाड़ा और समस्त विकासखंड के संगठन के प्रति पुरस्कार समिति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए आप सभी के स्वस्थ सुखी संपन्न जीवन की कामना करती हैं।
राष्ट्रीय भर्तृहरि-विक्रम-भोज पुरस्कार समिति भारत।

पवार युवा मंडल (इंदौर, महू ,पीथमपुर, राऊ

पराक्रमी पुरुषार्थी ही नहीं, प्रयोगधर्मी पवार भी

प्रयास ही नही, सार्थक संदेश देने का सार्थक प्रयास भी

परंपरागत पंगत प्रथा ही नहीं प्रेरक प्रयोग भी
पवार केवल पराक्रमी पुरुषार्थी ही नहीं होते, प्रयोग धर्मी भी होते हैं। पवार केवल सार्थक प्रयास ही नहीं करते , सार्थक संदेश भी देते हैं। पवार केवल परंपरागत पंगत के लिए ही नहीं जाने जाते, पंगत में प्रयोग के लिए भी जाने जाते हैं।
घर से दूर अपने लिए घर ही नहीं पूरा गांव बसाने वाले, केवल अपने लिए ही रोजी-रोटी का प्रबंध नहीं, अपने बूढ़े माता-पिता और छोटे भाई बहनों का भी प्रबंध करने वाले, अपने घर से सैकड़ों किलोमीटर दूर अपनी बोली भाषा और संस्कृति को जीने वाले ,छिंदवाड़ा और बैतूल के गांव-गांव से पहुंचने वाले और  विपन्नता में भी संपन्नता लाने वाले कोई और नहीं अपने ही भाई बहन हैं।
यह धार के समीप होने का परिणाम हो या धार के कर्णधारों के प्रताप का असर पर संगठन ने हर बार अपने कार्यक्रम को धार प्रदान करने का प्रयास किया है।

जी हां ,यह कोई और नहीं ,महू, राऊ, पीथमपुर , इंदौर के भाई बहनों द्वारा 12 जनवरी 2020 को मऊ में किए गए प्रयोग हैं। संगठन के पदाधिकारियों द्वारा 12 जनवरी 2020 के अपने आयोजन को स्वामी विवेकानंद पर केंद्रित करके और अतिथियों को उनकी फोटो भेंट करके विवेकानंद को जीने का प्रयास किया गया है। और एक सार्थक प्रयास के द्वारा सार्थक संदेश देने का प्रयास किया गया है। परंपरागत पंगत में नया प्रयोग करके कुछ हटकर करने का प्रयास किया गया है। प्रस्तुत दोनों चित्र स्वयं हकीकत बयां करते हैं। विश्वास न हो तो खुद आप अपनी आंखों से देख लीजिए। आपकी सुविधा के लिए दो चित्र संलग्न है।

राऊ ,पीथमपुर, मऊ और इंदौर के सभी भाई बहनों को सादर नमन्। आपके पुरुषार्थ और प्रयोग धर्मिता को नमन्।

आपका “सुखवाड़ा” ई-दैनिक और मासिक।

क्षत्रिय पवार समाज संगठन शोभापुर बगडोना

क्षत्रिय पवार समाज संगठन शोभापुर बगडोना ब्लाक घोडाडोंगरी के वार्षिक स्नेह सम्मेलन हर्षोउल्लास के साथ सम्पन्न के आयोजन के कुछ पल । जय राजा भोज ..आयोजन की सफलता के लिए बहुत-बहुत बधाई

पवार समाज युवा मंडल महू इंदौर

पवार युवा मंडल के तत्वाधान में क्षत्रिय पवार समाज वार्षिक स्नेह सम्मेलन हर्षोउल्लास के साथ सम्पन्न : सफल आयोजन हेतु उपस्थित अतिथिगण,विभिन्न शहरों के पवार समाज संगठनो के पदाधिकारिगन ,विभिन्न शहरों से पधारे समाजबंधु ,इंदौर, महू ,पीथमपुर, राऊ से पधारे समाज बन्धु ,पवार युवा मंडल के सहयोगी बन्धु एवं वरिष्ठ बन्धुओ को बहुत बहुत धन्यवाद जिन्होंने अपना बहुमूल्य समय निकालकर कार्यक्रम में उपसस्थिति प्रदान कर कार्यक्रम को सफल बनाया।
बहुत बहुत धन्यवाद आप सभी को
आपका
सुनिल बोबडे (अध्यक्ष)
पवार युवा मंडल ,महू ,इंदौर

WE ARE AN ENTREPRENEUR OF "I-DIGIT SOFTWARE" OUR VISION IS TO HELP PAWAR MEMBERS TO FIND THEIR LIFE PARTNER...