Blog

द्वितीय राष्ट्रीय भृर्तहरि विक्रम भोज पुरस्कार समिति भारत प्रतिभा सम्मान समारोह

द्वितीय राष्ट्रीय भृर्तहरि विक्रम भोज पुरस्कार

पांढुर्णा के बाद छिंदवाड़ा के सहयोग और समर्थन से आयोजित हुआ द्वितीय प्रतिभा सम्मान समारोह

हमें प्रशंसा या आलोचना से परे होकर निरंतर कार्य करना होगा अन्यथा हमारा रिमोट हमेशा दूसरों के हाथ में होगा और हम कार्य करने की जगह केवल प्रशंसा और आलोचना के भंवर में ही भटकते रहेंगे।

तृतीय आयोजन 2021 में फरवरी के द्वितीय रविवार को बैतूल में
छिंदवाड़ा। 7 जुलाई वर्ष 2019 को पांढुर्णा से प्रारंभ हुआ पुरस्कार समिति का सफर 2 फरवरी 2020 को छिंदवाड़ा तक जा पहुंचा। पांढुर्णा और छिंदवाड़ा के सभी भाई बहनों के प्रति कृतज्ञता और आगंतुकों के प्रति श्रद्धाभाव जिनके सहयोग और समर्थन से अब तक का सफर सफलतापूर्वक संपन्न हुआ।

हमारा उद्देश्य पवित्र है, हमारा कार्य पवित्र है ,भले ही हम कार्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर की ऊंचाई दे पाने में अभी पूर्णतः सफल नहीं हो पाए हैं, फिर भी हम कुछ बेहतर करने और समाज को बेहतर देने की ओर अग्रसर है,
यह हमारे लिए खुशी की बात है। 2 वर्ष के बच्चे में हर स्तर की परिपक्वता देखना थोड़ा जल्दी बाजी ही होगा। पुरस्कार समिति यह स्वीकार करती है कि अभी और  कुटने ,अभी और पीटने, अभी और  तपने अभी और निखरने की जरूरत है।

छिंदवाड़ा जिले के दो आयोजन पुरस्कार समिति को परिपक्वता प्रदान करने के लिए प्रदत्त तन मन धन रुपी सहयोग ही कहलायेगा जो पुरस्कार समिति के भविष्य को तय करने के लिए पर्याप्त है।
पुरस्कार समिति के उद्देश्य और कार्य के प्रति छिंदवाड़ा जिले के भाई बहनों द्वारा जो विश्वास जताया गया वह उनके सामाजिक सरोकार और समाज प्रेम का जीता जागता उदाहरण है। बैतूल जिले के भाई बहनों द्वारा तीसरे कार्यक्रम के आयोजन का उत्तरदायित्व अपने ऊपर लेकर पुरस्कार समिति के प्रति जो विश्वास जताया गया है उस पर पुरस्कार समिति खरा उतरने का पूरा प्रयास करेगी।
आयोजन में सहयोग देने वाले सभी भाई बहनों और आयोजन में पधारे सभी भाई बहनों के प्रति पुरस्कार समिति कृतज्ञता व्यक्त करती है। आशा है आप सभी आगंतुक अपने-अपने घर सकुशल पहुंच गए होंगे।

पुरस्कार समिति के सभी सम्मानीय सदस्यों को प्रशंसा या आलोचना से परे होकर निरंतर कार्य करना होगा अन्यथा हमारा रिमोट हमेशा दूसरों के हाथ में होगा और हम कार्य करने की जगह केवल प्रशंसा और आलोचना के भंवर में ही भटकते रहेंगे। हमें तीसरे आयोजन को और अधिक समृद्ध और सफल बनाने के लिए अभी से ही जुट जाना होगा।
बैतूल के भाई बहनों द्वारा पुरस्कार समिति के आयोजन को अपना कार्यक्रम मानकर पुरस्कार समिति को जो मान दिया गया है वह  पांढुरना और छिंदवाड़ा के भाई बहनों की तरह ही पुरस्कार समिति को गौरवान्वित करने वाला है।
पवार समाज संगठन पांढुर्णा, जिला पवार समाज संगठन छिंदवाड़ा, नगर इकाई छिंदवाड़ा, महिला संगठन छिंदवाड़ा और समस्त विकासखंड के संगठन के प्रति पुरस्कार समिति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए आप सभी के स्वस्थ सुखी संपन्न जीवन की कामना करती हैं।
राष्ट्रीय भर्तृहरि-विक्रम-भोज पुरस्कार समिति भारत।

Share it on

Leave a Comment

WE ARE AN ENTREPRENEUR OF "I-DIGIT SOFTWARE" OUR VISION IS TO HELP PAWAR MEMBERS TO FIND THEIR LIFE PARTNER...